Hindi: सोचो, यदि…

सोचो, यदि…

हर सदस्य संपन्न संघ में है ।

प्रत्येक संघ के पास वास्तव में सुखद और मज़ेदार बनाने के लिए पर्याप्त सदस्य है ।

हर भाषण और अधिगम के लिए सुरक्षित जगह है ।

हम समूह बनाते हुए एक साथ बढ़ते हैं ।

हर नेतृत्व की भूमिका भरी हुई है…

जिससे हज़ार नेतृत्व के अवसर सामने हैं ।

और दिन के अंत में किसी भी व्यक्ति को सारा भार उठाने की ज़रूरत नहीं है,

वास्तव में आप अपनी ताकत और जूनून से काम करते है। 

क्या होगा, हममें से हर एक अपने आप को व्यक्त करने के लिए बिना डर या शंका के विशवास हासिल करता है?

कल्पना कीजिए ज़िन्दगी कैसे बदल जाएगी।  टोस्टमास्टर्स दुनिया को बदलते हैं।